All posts in Funny Hindi Poetry on Dharmendra Pradhan

Poetry

एक दिन मुर्ख बनाने के लिए अप्रैल फूल और पांच साल मुर्ख बनाने के लिए कमल का फूल इसके बाद भी कोई ना समझे वो है ब्लडीफूल

Poetry

अबकी बार पकोड़ो की सरकार! हर हर पकोड़ा , घर घर पकोड़ा

Poetry

कमल का फूल ऑल्वेज़ बनाविंग अप्रैल फूल। रहना कूल ना करना भूल, चटाना धूल।।

Poetry

सारे विरोधी हुए पस्त, कमल खिलेगा मस्त

Poetry

आज फिर आके बारिश ने कीचड़ कर दिया, लगता है “कमल” खिलने का इशारा कर दिया

Poetry

सौ बार मरना चाहा पेट्रोल से जलकर, वो रेट बढ़ा देता है मरने नही देता ..

Poetry

झूम ले या घूम ले! बीयर 80/= पेट्रोल 80/=

Poetry

किसी को रोटी की कमाई मार गयी, कपडे की किसी को सिलाई मार गयी, किसी को मकान की बनवाई मार गयी, और सबको गाडी में पेट्रोल की भराई मार गयी

Poetry

पेट्रोल हुआ 80 के पार, हाहाकार मोदी सरकार।

Poetry

मैं पेट्रोल के बढ़ते दाम पर लिखुँगा.. तुम मोदी विरोधी देशद्रोही समझना!

error: Content is protected !!
UA-55292910-2