Poetry

ललुआ-ललुआ दूर के चारा खाएं चूर के तेजस्वी को दिया थाली मे नितिश को दिया प्याली मे नितिश गए रूठ गठबंधन गया टूट,,,,,,

Comments are closed.

error: Content is protected !!
UA-55292910-2